नसीब वालो को ही देखने को मिलते हे, ये दुनिया के सबसे महंगे फल !..

नसीब वालो को ही देखने को मिलते हे, ये दुनिया के सबसे महंगे फल !..
कुछ समय पहले मध्य प्रदेश के जबलपुर में एक आम का बगीचा काफी वायरल हुआ था क्योंकि यहां टाइयो नो टमैंगो नाम के जापानी आम की सुरक्षा के तमाम इंतजाम किए गए थे. ऐसा इसलिए था क्योंकि एक किलो के इन लक्जरी आम की कीमत ढाई लाख रुपये थी. हालांकि सिर्फ आम ही नहीं बल्कि कई ऐसे लक्जरी फ्रूट्स हैं जिनकी कीमत हैरान करने वाली है.

जापान के ‘रुबी रोमन’ अंगूर को अपने साइज और अपने टेस्ट के चलते लक्जरी फ्रूट्स की श्रेणी में डाला गया है. दरअसल ये अंगूर पिंगपॉन्ग बॉल्स जितने बड़े होते हैं और हर अंगूर का साइज और टेक्च्शर एक समान होता है. इसके अलावा इन अंगूरों का टेस्ट भी एक्स्ट्रा स्वीट होता है. इन्हें जापान की इशिकावा प्री फ्रेक्चरल ने तैयार किया था और कुछ साल पहले एक जापानी ऑक्शन में 24 अंगूरों को 8 लाख 17 हजार में बेचा गया था यानी एक अंगूर की कीमत लगभग 35 हजार रुपये थी.

गौतम बुद्ध शेप के नाशपाती भी दुनिया के सबसे महंगे फ्रूट्स में शुमार किए जाते हैं. बुद्धा नाशपाती का आइडिया सबसे पहले चीन के एक किसान को आया था और वे पिछले कुछ सालों से इस खास तरह के शेप वाले नाशपाती को अपने खेतों में उगा रहे हैं. इस एक नाशपाती की कीमत 700 रुपये के आसपास है और बुद्धा शेप होने के चलते कई बार लोग इस नाशपाती की मुंह मांगी कीमत भी देते हैं.

क्यूब और स्क्वॉयर तरबूजों को दुनिया के सबसे महंगे तरबूजों में शुमार किया जाता है. जापान में इन तरबूजों को स्क्वॉयर वुड बॉक्स में उगाया जाता है जिसके चलते इन तरबूजों की ऐसी अनोखी शेप हो जाती है. अपनी खास शेप और टेस्ट के चलते ये तरबूज काफी महंगे बिकते हैं. 5 किलो क्यूब तरबूज की कीमत लगभग 60 हजार रुपये के आसपास होती है

सेंबिकिया स्ट्रॉबेरी को दुनिया की सबसे महंगी स्ट्रॉबेरी में शुमार किया जाता है. इस स्ट्रॉबेरी का नाम टोक्यो की एक फ्रूट शॉप पर रखा गया है. साल 1834 में बनी सेंबिकिया शॉप जापान की सबसे पुरानी फ्रूट शॉप में शुमार की जाती है. ये स्ट्रॉबेरी एक्स्ट्रा स्वीट होती हैं और सिर्फ जापान में ही मिलती हैं. 12 स्ट्रॉबेरी की कीमत 85 डॉलर्स यानी 6 हजार रुपये के आसपास है.

सेकाई ईची सेब को दुनिया के सबसे महंगे और सबसे ज्यादा पौष्टिक सेबों में शुमार किया जाता है. इन्हें साल 1974 में जापान के मार्केट में सबसे पहले लाया गया था. सेकाई ईची का मतलब जापानी भाषा में ‘दुनिया में सर्वश्रेष्ठ’ होता है और इन सेबों के बारे में भी ऐसा ही कहा जा सकता है. इन्हें उगाने वाले किसान इन्हें शहद से धोते हैं और हैंड पॉलिनेशन का इस्तेमाल करते हैं. सिर्फ एक सेब की कीमत लगभग 1600 रुपये होती है.

देखे विडियो:

नोट – प्रत्येक फोटो प्रतीकात्मक है (फोटो स्रोत: गूगल)

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. timepass अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

time pass

Leave a Reply

Your email address will not be published.